One Reason of Happiness [2018]

One Reason of Happiness
One Reason of Happiness



समय गुज़रता जाता है, वह किसी के लिए नहीं रुकता !!

मैनें क्या, आपनें भी ये एक लाइन कई दफ़े अपनें जीवन में सुनी होगी| मैं इस बात से सहमत भी हूँ कि समय किसी के लिए नहीं रुकता| लेकिन सच्चाई सिर्फ इतनीं ही नही है|

आप सोंच रहे होंगे कि आखिर सच्चाई है क्या ???

आज के इस लेख में मैं आपसे बस इसी बात पर गुफ़्तगू करनें वाला हूँ| मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ कि जब आप मेरा ये लेख पढ़ चुके होंगे तो निःसंदेह एक संतुष्टि और प्रसन्नता का भाव आपके चेहरे पर अवश्य मुखरित होगा और तभी जो मेहनत मैंने इस लेख को लिखनें में की है वो सार्थक होगी|
One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


तो फ़िर बात करतें है समय के गुज़रनें की, उसकी वास्तविकता की और जोड़तें है आपके मन को अपनें अंतर्मन की भावना से...
हकीक़त यही है कि समय गुज़रता जाता है| वो किसी के लिए नही रुकता| जब भी, जहाँ से भी समय गुज़रता है, वो अपनें पदचिन्ह अवश्य छोड़ जाता है और उन्ही समय के पदचिन्हों के बल पर इतिहास अपनें को दोहराता रहता है|

आखिर कैसे?? आइये समझतें है|

आजकल हम जो भी काम करतें हैं उसमें इतना व्यस्त हो जातें हैं कि वास्तविक जीवन से हम दूर हो जातें हैं|

लेकिन पहले ऐसा नहीं था, आपको पता होगा पहले के समय में गांवों में हर शाम चौपालें लगती थी| वहां पर हर शाम कोई न कोई कार्यक्रम होता रहता था| कही गाना-बजाना, कही हँसी-ठहाके, कहीं किस्से-कहानियां आदि आदि| इन सब बातों से लोगों का एक ही मक़सद होता था मेल-जोल बढ़ाते हुए अपनें वर्तमान जीवन का आनंद लेना|

One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


अच्छा एक बात और है, उस समय लोगों की प्राकृतिक याददाश्त बहुत तेज़ होती थी| ज़ाहिर है लोग मशीनों पर कम निर्भर थे, तो शारीरिक और मानसिक परिश्रम अधिक होता था|जिसका फल भी उन्हें मिलता था एक स्वस्थ्य व दीर्घायु जीवन के रूप में|

हाँ तो बात चल रही थी तेज़ याद्दाश्त की, तो वे लोग इसका उपयोग तब करते जब आस-पास के लोग इकट्ठा होते, चौपाल लगती, बच्चे-बूढ़े सब एकत्रित होते तो किस्सों का दौर चल पड़ता|

उनमें से कोई भी, किसी के भी किस्से सुनाकर एक-दूसरे की टांग खीचना प्रारंभ कर देते| इससे सभी का खूब मनोरंजन होता कभी हँसी-ठहाकों में, कहीं ज्ञान-वर्धन में आदि तरीकों से, जिसकी परिणति एक चिंता-मुक्त, अवसाद-मुक्त जीवन के रूप में होती|

तो बात वही है, आज हम व्यस्त हैं, इतना भी समय नहीं की समय को रोक कर थोड़ा हँस लें, मुस्कुरा लें और उसी का परिणाम है कई प्रकार की मानसिक व शारीरिक बीमारियाँ|

One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


जबकि ईश्वर नें हम सभी को एक शक्ति दी है समय को रोकनें की| 
अब आप मुझे पागल समझें इससे पहले मैं आपको बता देता हूँ कैसे ???

मैं जनता हूँ आपकी जिंदगी में अनेक ऐसे लम्हे आये हैं जिनमें आपके ठहाके आसमान में गूंजे होंगे, आप खिलखिलाकर हँसे होंगें, दोस्तों के साथ मस्ती की होगी, किसी को चिढ़ाया होगा, कभी किसी को गुदगुदी की होगी, किसी को गिरते हुए देख के मज़े लिए होंगे या किसी बात का जश्न मनाया होगा|
One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


ऐसे पता नहीं कितनें अनगिनत लम्हें आप नें संजोये होंगे और उन लम्हों की याद आज भी आपकी स्मृति में ताज़ा होगी बिलकुल वैसे ही जैसे सब अभी-अभी ही हुआ हो|

यहीं हैं उस समय के पदचिन्ह!!

अगर आप ख़ुद को महसूस करना चाहतें हैं तो ज़्यादा मेहनत करनें की ज़रुरत नहीं है बस एक कुर्सी लीजिये और इत्मीनान से एक कोंने में, घर या छत की बालकनी में, जहाँ से ठंडी हवा आपके चेहरे को स्पर्श करती रहे, सिर को पीछे की तरफ आराम दे कर बैठ जाईये और आँखें बंद कर के खो जाइये उन यादों के भण्डार में भूल जाइये सारे दुःख सारी चिंताएं बस उस क्षण के लिए ....
One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


जब समय रुक जाता है....

..और आपके बेहतरीन लम्हों का वो दौर लौट कर आता है, 

आपके दोस्त, आपका कोई अपना या आपके घर वाले सभी के मुस्कुराते 

चेहरे आपके चेहरे पर एक हँसी बिखेर देतें हैं बस उस अपनेंपन की !!

One Reason of Happiness
One Reason of Happiness


ये भी पढ़ें-
        

Hey there, I'm Mayank Bajpai!

If You Want Free Updates!! Subscribe My Blog Now!!

If You Like This Post Please Share!!